शनिवार, 9 मार्च 2013

"HaPpY BiRthDaY tO YoU" :)

चाहती  हूँ आज,
मेरे अंजुमन में,
जो भी हो 
मुझे सबसे प्रिय,
दे सकू तुम्हें;

तुम्हारी ख्वाहिशों को लग जाएँ
पंख मेरी शफ्कतों के,
तुम्हारे
सपनों के इन्द्रधनुष
जगमगाते रहें;

तुम्हारी राह के कांटे
ईश्वर फूल कर दे,
और जिंदगी की तपती दुपहरों में
तुम्हारे लिए
सदा जुटी रहें कुछ बदलियाँ
हैप्पी बर्थडे  to यू :)
तुम्हारी ऊँचाइयों के गीत
शिखर गुनगुनाते रहें,

तुमसे किसी अहद की आस नहीं
बस तुम्हारे गम
तुम्हारे न रहें,
मेरी व्यथाएं हो जाएँ

तुम्हारे  दिन सूरज हों,
रातें चाँद-सितारे ,
रब करे   
तुम्हारे सब लम्हें
ख़ुशी की कथाएं हो  जाएँ;

तुम्हारी हंसी की
आहटें  ही 
मेरे द्वार की दस्तक हों
तुम्हारी
मुस्कुराहटों की  रौशनी से
जिंदगी के दीप  झिलमिलाते रहें।